नारायणपुर पुलिस को ईनामी नक्सली सहित 04 नक्सली सदस्यों को गिरफ्तार

NPR_POLICE

नारायणपुर पुलिस को ईनामी नक्सली सहित 04 नक्सली सदस्यों को गिरफ्तार करने में मिली सफलता।

         श्री सुन्दरराज पी, पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रंेज, श्री विनीत खन्ना, पुलिस उप महानिरीक्षक, कांकेर रेंज, उत्तर बस्तर कांकेर, श्री मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर, श्री नीरज चंद्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक नारायणपुर एवं श्री अनुज कुमार, पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नारायणपुर के निर्देशन में डीआरजी, जिला बल, छसबल, एसटीएफ, आईटीबीपी, द्वारा क्षेत्र में लगातार नक्सल विरोधी अभियान संचालित किया जा रहा है। पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के तहत दिनांक 27.05.2021 को थाना कोहकामेटा से जिला बल, डीआरजी एवं आईटीबीपी की संयुक्त पुलिस पार्टी नक्सल विरोधी अभियान पर ईरकभट्टी, कच्चापाल, कानागांव की ओर रवाना की गयी थी। दिनांक 28.05.2021 को पुलिस पार्टी ईरकभट्टी जंगल का सर्च कर रही थी, तभी 04 संदिग्ध व्यक्ति पुलिस पार्टी को देखकर भागने का प्रयास कर रहे थे। जिनको पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा गया, जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम 1-सोनारू आंचला पिता आयतु राम आंचला उम्र 22 वर्ष जाति माडि़या निवासी कच्चापाल थाना कोहकामेटा (ईरकभट्टी जनताना सरकार सदस्य) 2-फागु राम आंचला पिता स्व0 केये राम आंचला उम्र 35 वर्ष जाति माडि़या निवासी कच्चापाल थाना कोहकामेटा (ईरकभट्टी जनताना सरकार सदस्य) 3-सोनू राम आंचला पिता स्व0 कारिया राम आंचला उम्र 45 वर्ष जाति माडि़या निवासी कच्चापाल थाना कोहकामेटा (ईरकभट्टी जनताना सरकार सदस्य) 4-मंगतु राम पोटाई पिता कोसा राम पोटाई उम्र 35 वर्ष जाति माडि़या निवासी स्कूलपारा ईरकभट्टी थाना कोहकामेटा (ईरकभट्टी जनताना सरकार सदस्य) बताये तथा फागुराम आंचला के निशानदेही पर डेटोनेटर 02 नग व बिजली वायर 01 बण्डल एवं मंगतु राम पोटाई के निशानदेही पर 01 नग भरमार बदूंक ईरकभट्टी जंगल से बरामद किया गया। उक्त नक्सलियों द्वारा दिनांक 20.11.2019 को ईरकभट्टी व कोहकामेटा रोड़ निर्माण कार्य में लगे 03 टेªक्टर को आग लगाकर क्षतिग्रस्त करने की घटना, दिनांक 11.02.2020 को पावेल गुडरापारा टेकरी के पास विस्फोट की घटना जिसमें 01 गाय की मृत्यु हो गयी थी तथा दिनांक 30.10.2020 को कोहकामेटा से ईरकभट्टी मार्ग में बम विस्फोट की घटना जिसमें आईटीबीपी का 01 जवान घायल हुआ था, जिसमें शामिल होना स्वीकार करने पर चारों नक्सली आरोपियों को दिनांक 28.05.2021 को गिरफ्तार कर दिनांक 29.05.2021 को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया। नक्सली आरोपी सोनारू आंचला, फागुराम आंचला व मंगतु पोटाई के ऊपर पुलिस अधीक्षक नारायणपुर द्वारा 10-10 हजार रूपये का ईनाम उद्घोषित किया गया था। 

-0-

Read More

नक्सली संगठन की खोखली विचारधारा को छोड़कर समाज की मुख्यधारा

Uncategorized


नक्सली संगठन की खोखली विचारधारा को छोड़कर समाज की मुख्यधारा में शामिल होने 03 माओवादी नक्सली सदस्य नारायणपुर पुलिस के समक्ष किया आत्मसमर्पण।

श्री सुन्दरराज पी., पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रंेज, श्री विनीत खन्ना, उप पुलिस महानिरीक्षक कांकेर रेंज, श्री मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर, श्री नीरज चंद्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिला बल, छसबल, एसटीएफ, आईटीबीपी, बीएसएफ द्वारा लगातार नक्सल विरोधी अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नक्सल विरोधी अभियान के कारण नक्सलियों पर बढ़ते दबाव एवं शासन की पुनर्वास नीति से प्रभावित होकर माओवादी संगठन को छोड़कर समाज के मुख्यधारा में सम्मिलित होने 03 नक्सली सदस्यों ने आज दिनांक- 26.06.2021 को पुलिस अधीक्षक कार्यालय में श्री मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर के समक्ष बिना हथियार आत्म समर्पण किये है।
आत्मसर्पित करने वाले नक्सलियों की सक्रियता एवं कार्यक्षेत्र-
01- टोकड़ी उर्फ मंगली मण्डावी उम्र 21 वर्ष जाति माडि़या निवासी हितुल थाना ओरछा जिला नारायणपुर (सीसीएम देवजी उर्फ कुम्मा की कुक च्ड सदस्य)ः- आदेर जनताना सरकार अध्यक्ष पण्डरू ने वर्ष 2013-14 में मंगली को आदेर पंचायत मिलिषिया सदस्य के रूप में संगठन में शामिल किया। वर्ष 2017 में ओरछा एलओएस कमाण्डर दीपक ने आदेर एलओएस सदस्य के रूप में भर्ती किया जिसमें 04 महिना कार्य करने के पष्चात दीपक ने इसे सीसीएम देवजी उर्फ कुम्मा के पास छोड़ दिया। वर्ष 2018 में सीसीएम देवजी उर्फ कुम्मा ने इसे पार्टी सदस्य (च्ड) बनाकर 303 हथियार दिया। सीसीएम देवजी उर्फ कुम्मा के साथ रहकर उसके लिए खाना बनाना, उसके कपड़े धोना, संतरी ड्यूटी करना जैसे कार्य करती थी। तब से सीसीएम देवजी उर्फ कुम्मा के साथ नक्सली संगठन में सक्रिय रूप से कार्य कर रही थी। नक्सली संगठन की विचारधारा से मोह भंग होने, चलने फिरने में परेषानी होने एवं पैरों में सूजन होने की बीमारी होने के कारण संगठन छोड़ने का विचार किया तथा नक्सली संगठन छोड़कर समाज की मुख्यधारा से जुड़ने नारायणपुर पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण की है।
02- लच्छु बेंजामी पिता स्व. गडरू बेंजामी उम्र 48 वर्ष, जाति माडि़या, निवासी आदवाड़ा थाना जांगला जिला बीजापुर इदेर जनताना सरकार सदस्य)ः- वर्ष 2010-11 में नक्सली कमाण्डर मनोज, रमेष एवं आदवाड़ा पंचायत इदेर जनताना सरकार अध्यक्ष सुखराम परसा ने इसे आदवाड़ा पंचायत इदेर जनताना सरकार सदस्य के रूप में शामिल किया तब से नक्सली संगठन के जनताना सरकार में सक्रिय रूप से कार्य कर रहा था।
03- सीताराम फरसा पिता आयतु परसा, उम्र 25 वर्ष, जाति मुरिया, निवासी आदवाड़ा, थाना जांगला जिला बीजापुर इदेर पंचायत जनताना सरकार सदस्य):- वर्ष 2015-16 में नक्सली कमाण्डर मनोज, रमेष एवं आदवाड़ा पंचायत इदेर जनताना सरकार अध्यक्ष सुखराम परसा ने इसे आदवाड़ा पंचायत इदेर जनताना सरकार सदस्य के रूप में शामिल किया तब से नक्सली संगठन के जनताना सरकार में सक्रिय रूप से कार्य कर रहा था।

आत्मसर्पित नक्सली लच्छु बेंजामी एवं सीताराम परसा संगठन में कार्य करने के दौरान नक्सलियों के लिए भोजन की व्यवस्था करना, गांव मे अंजान व्यक्तियों के आने पर उनसे पूछताछ व उनकी निगरानी करना, नक्सली साहित्य एवं पोस्टर पाम्पलेट चिपकाना, ग्रामीणो को नक्सली मीटिंग में उपस्थित होने की सूचना देना, बाजारो से दैनिक उपयोग की सामग्री खरीद कर नक्सलियों तक पहुंचाना, नक्सलियोें के गांव में आने पर उनको सुरक्षा देना, क्षेत्र में पुलिस आने की सूचना देना, पुलिस पार्टी की रेकी करना, नक्सलियो के अस्थायी कैम्प मे संतरी डियूटी करना, गांव के चारो ओर दिन के समय पेट्रोलिंग करने जैसे कार्य कर संगठन में सक्रिय कार्य कर रहे थे। नक्सलियों की गलत नीतियों से असंतुष्ट होकर समाज की मुख्यधारा में जुड़कर सामान्य जीवन यापन करने श्री मोहित गर्ग, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर के समक्ष आत्मसमर्पण किये है।  
Read More

पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में नारायणपुर पुलिस

Uncategorized


पुलिस-नक्सली मुठभेड़ में नारायणपुर पुलिस को 02 माओवादी नक्सली को मार गिराने एवं घटना स्थल से हथियार सहित भारी मात्रा में सामाग्री बरामद करने में मिली सफलता
पुलिस महानिरीक्षक बस्तर रेंज श्री सुन्दरराज पी.,उप पुलिस महानिरीक्षक विनीत खन्ना, पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर श्री मोहित गर्ग,अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर श्री नीरज चन्द्राकर के निर्देशन में लगातार नक्सल विरोधी अभियान चलाया जा रहा है, इसी तारतम्य में दिनांक-18.06.2021 की रात्रि में डीआरजी की पुलिस पार्टी नक्सल विरोधी अभियान पर इतुल, कोरवाया गांव की ओर रवाना किया गया था। दिनांक-19.06.2021 को प्रातः करीबन 08ः00 बजे पुलिस पार्टी को इतुल के जंगल में नक्सलियों को कैम्प दिखाई देने पर पुलिस पार्टी द्वारा घेराबंदी किया जा रहा था तभी माओवादी नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी को देखकर जान सहित मारने एवं हथियार लूटने के नियत से पुलिस पार्टी पर फायरिंग करने लगे, पुलिस पार्टी द्वारा आत्मसुरक्षार्थ जवाबी फायरिंग किया गया। पुलिस के जवाबी फायरिंग से नक्सली जगंल, पहाड़ का आड़ लेकर भाग गये। फायरिंग करीबन आधा घण्टा तक चला। फायरिंग बंद होने के पश्चात घटना स्थल की सर्चिंग करने पर एक अज्ञात नक्सली का शव, 303 रायफल 01 नग, भरमार बदूंक 01 नग एवं अन्य सामग्री बरामद किया गया। जिसे लेकर पुलिस पार्टी टेक्टिकल मूव्हमेंट करते हुए वापस आ रहे थे कि करीबन दोपहर 01ः00 बजे कोरोवाया के जंगल में एम्बुश लगाकर माओवादी नक्सलियों द्वारा पुलिस पार्टी पर फायरिंग करना शुरू कर दिये, जिससे पुलिस पार्टी के जवान बालबाल बचे, पुलिस पार्टी द्वारा तत्काल पोजीशन लेकर माओवादी नक्सलियों को आत्मसमर्पण करने बोला गया, लेकिन माओवादी नक्सलियों द्वारा लगातार फायरिंग किया जा रहा था जिससे पुलिस पार्टी द्वारा आत्मसुरक्षार्थ जवाबी फायरिंग कर नक्सिलयों के एम्बुश को तोड़ने में सफलता मिली। नक्सली जवाबी फायरिंग से जंगल, पहाड़ का आड़ लेकर भाग खड़े हुए। मुठभेड़ पश्चात घटना स्थल की सर्चिंग करने पर एक अज्ञात नक्सली का शव, 315 बोर रायफल 01 नग, तीर-धनुष, डेटोनेटर व अन्य सामग्री बरामद किया गया। घटना में कुछ जवानों को साधारण चोट लगी है, जिनका ईलाज जिला अस्पताल नारायणपुर में किया गया, जवानों की स्थिति सामान्य है।
ऽ मुठभेड़ में घटना स्थल से 02 माओवादी नक्सली का शव, 303 रायफल मय मैग्जीन 01 नग, राउण्ड 04 नग, 315 बोर रायफल मय मैग्जीन 01 नग, राउण्ड 02 नग, भरमार बदूंक 01 नग, धनुष, तीर, रिमोट, बैटरी, टार्च, पिठ्ठू, नक्सली वर्दी, नक्सल बैनर,डेटोनेटर,दवाईया, नक्सली साहित्य एवं दैनिक उपयोग की सामग्री बरामद करने में सफलता मिली है।

Read More
Language »